CBSE Class-8 Hindi “मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ (muhavre evm lokoktiya)” questions-answers

मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ

१) मुहावरे की सही परिभाषा पहचानिए और उस पर सही का निशान लगाइए –
क) ऐसे शब्द या वाक्यांश जो सामान्य अर्थ से भिन्न अर्थ की प्रतीति कराएँ।  ✔
ख) जो किसी वस्तु , व्यक्ति या स्थान का नाम बताएँ। 
ग) शब्द जो संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त हों। 
घ) ऐसे शब्द जो व्यक्ति ,वस्तु की विशेषता बताएँ।  ✔

२) लोकोक्ति की सही परिभाषा पहचानिए और उस पर सही का निशान लगाइए –
क) ऐसे वाक्य जिनके पीछे अनुभव की कोई सत्यता न हो। 
ख) वाक्य जो सारहीन हो। 
ग) वाक्य जिनमें अनुभव से प्राप्त सीख का उल्लेख हो। ✔
घ) ऐसे वाक्य जो परिवर्तनशील हों। 

३) दिए गए मुहावरों व लोकोक्तियों का सही अर्थ विकल्पों में से छाँटकर लिखिए –

क) छोटा मुँह बड़ी बात
i ) छोटे आकर के मुँह से बड़ी बातें करना
ii) काल्पनिक बातें करना
iii ) आयु व ओहदे से अधिक समज़दारीपूर्ण बातें करना
उतर – iii ) आयु व ओहदे से अधिक समज़दारीपूर्ण बातें करना

ख ) आंखें खुलना
i ) वास्तविकता का ज्ञान होना
ii ) सोकर उठना
iii ) विस्मित होना
उतर – i ) वास्तविकता का ज्ञान होना

ग) अक्ल का दुश्मन
i ) मूर्ख
ii ) समझदार
iii ) अनपढ़
उतर – i ) मूर्ख

घ) अधजल गगरी छलकत जाए
i ) आधी भरी गगरी का छलकना
ii ) अधूरे ज्ञान का प्रदर्शन
iii ) अवसरवादी होना
उतर – ii ) अधूरे ज्ञान का प्रदर्शन

ङ) दिन फिरना
i ) भाग्य पलटना
ii ) दिन से शाम होना
iii ) निश्चिन्त रहना
उतर – i ) भाग्य पलटना

४) उचित विकल्प का चयन कर निम्नलिखित वाक्यों में रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

क) राहुल को गमले में लगे गुलाब के पौधे को बड़ा करने की इतनी जल्दी थी कि उसने उसे दिन में चार-पॉँच बार ढेर सारा पानी देना शुरू कर दिया जिससे पौधा मर गया। अगर राहुल ने कहावत याद रखी होती तो वह ऐसा न करता।
i ) सहज पके सो मीठा होय
ii ) बिना सेवा मेवा नहीं
iii ) थोथा चना बाजे घना
उतर – i ) सहज पके सो मीठा होय

ख ) यदि आर्थिक स्थिति ठीक न हो तो ठीक बात नहीं है।
i ) चादर से बाहर पग पसारना
ii ) दिमाग सातवें आसमान पर होना
iii ) अपना ही राग अलापना
उतर – i ) चादर से बाहर पग पसारना

ग) वक्ता व श्रोता को परस्पर वार्तालाप करते हुए एक-दूसरे की बात ध्यानपूर्वक सुननी चाहिए , न कि चाहिए।
i ) बात का धनी होना
ii ) मुँहतोड़ जवाब देना
iii ) अपना ही राग अलापना
उतर – iii ) अपना ही राग अलापना

घ) गोदाम में आग लगने के कारण लाला श्यामदास को व्यापार में बहुत हानि उठानी पड़ी। रामदास ने कुछ धन देकर उनकी सहायता की तो जैसे मिल गया।
i ) धरती पर पाँव न पड़ना
ii ) डूबते को तिनके का सहारा
iii ) दिन फिरना
उतर – ii ) डूबते को तिनके का सहारा

ङ ) अरे ! वर्मा जी के घर काम करने वाला नौकर तो निकला। महीनों तक घर में रहता रहा और मौका पाकर चोरी करके भाग निकला।
i ) आस्तीन का साँप
ii ) धरती पर पाँव न पड़ना
iii ) पानी-पानी होना
उतर – i ) आस्तीन का साँप

५) निम्नलिखित मुहावरे व लोकोक्तियों के अर्थ लिखिए –

क) सहज पक्के सो मीठा होय
अर्थ – उचित रीति से किया गया कार्य अच्छा होता है।

ख ) खरबूजे को देखकर खरबूजा रंग बदलता है
अर्थ – बुरी संगति का प्रभाव पड़ना।

ग) बाप बड़ा न भैया , सबसे बड़ा रुपैया
अर्थ – रुपया ही सबकुछ होना।

घ) गंगा गए तो गंगादास , जमना गए तो जमनादास
अर्थ – अवसरवादी होना।

ङ) थोथा चना बाजे घना
अर्थ – निकम्मे व्यक्ति द्वारा बढ़-चढ़कर बातें करना।

६) निम्नलिखित वाक्यों से मिलते-जुलते अर्थ वाले मुहावरे व लोकोक्तियाँ लिखिए –

क) वायदे का पक्का होना
बात का धनी होना

ख) चालाकी से बार-बार काम नहीं निकलता
काठ की हाँडी बार-बार नहीं चढ़ती

ग) तरह-तरह के अनुभव होना
घाट-घाट का पानी पीना

घ) सच्चे व्यक्ति को किसी का भय नहीं होता
साँच को आँच कहाँ

ङ) निरुत्तर कर देना
मुँहतोड़ जवाब देना।

७) निम्नलिखित मुहावरों का वाक्यों में प्रयोग कीजिए –

क) अपने मुँह मियाँ मिट्ठू बनना
हीना की क्या तारीफ करे वह खुद अपने मुँह मिया मिट्ठू बनती फिरती रहती है।

ख) कीचड़ उछालना
दुसरो पे कीचड़ उछालना बुरी बात है।

ग) बात का धनी होना
शेठ बात के धनी थे इसलिए उसने अपने दोस्त की मदद की।

घ) धरती पर पाँव न पड़ना
मेरे पापा ने मुझे भेट में साईकिल दी और मेरे पाँव धरती पर नहीं पड़ रहे थे।

ङ) ठन-ठन गोपाल
आनंद बहुत पैसे खर्च करता था इसलिए वह ठन-ठन गोपाल हो गया।

८) कोई पाँच नवीन लोकोक्तियाँ अर्थसहित लिखिए व उनका वाक्यों में प्रयोग कीजिए –

१) अंधो में काना राजा – मूर्खो के बीच कम बुद्धि वाला समज़दार माना जाता है।
मोहन को अंग्रेजी आती है , इसलिए वह अपने गाँव में अंधो में काना राजा है।

२) एक अनार सौ बीमार – एक वस्तु माँगनेवाले अनेक लोग।
जब कोई बड़ी ऑफर लगती है तब एक अनार सौ बीमार की स्थिति हो जाती है।

३) ऊँची दुकान , फीका पकवान – काम से ज्यादा अधिक दिखावा करना।
यह विद्यालय ऊँची दुकान फीका पकवान जैसी है।

४) एक तीर से दो शिकार – एक काम से दो लाभ।
राहुल हरबार एक तीर से दो शिकार कैसे कर लेता है ?

५) चिराग तले अँधेरा – खुद की बुराई न दिखना।
पडोशी दूसरे के बेटे में दोष निकलते है पर खुद के पुत्र के लिए चिराग तले अँधेरा है।

९) रंगीन वाक्यांशों की जगह मुहावरों का प्रयोग करके वाक्य पुनः लिखिए –

क) अमन जब बोलता है तो चुप नहीं होता और केवल अपनी बात ही कहता जाता है।
अमन जब बोलता है तो चुप नहीं होता और केवल अपना ही राग अलापता है ।

ख ) उस पर भरोसा मत करना , वह धोखा देनेवाला इंसान है।
उस पर भरोसा मत करना , वह रंगा सियार होनेवाला इंसान है।

ग) राहुल अपनी आय से अधिक व्यय करता है।
राहुल चादर से बाहर पैर पसारता  है।

घ) नौकरी न मिलने की वजह से पवन के हाथ खाली हो गए हैं
नौकरी न मिलने की वजह से पवन ठन-ठन गोपाल हो गया ।

ङ) ‘कौन बनेगा लखपति’ जीतकर तो सुरभि का भाग्य पलट गया है।
‘कौन बनेगा लखपति’ जीतकर तो सुरभि का दिन फिर गया है ।

१०) मुहावरे व लोकोक्ति में पाँच अंतर बताइए।

मुहावरे लोकोक्ति
  • मुहावरे वाक्य के अंश होते है।
  • लोकोक्ति स्वयं में पूर्ण वाक्य के रूप में प्रयुक्त होती है।
  • वाक्य में प्रयुक्त होने के बाद इनकी स्वतंत्र सता नहीं होती क्योंकि ये वाक्य का ही एक अंश बन जाते है।
  • वाक्य में प्रयुक्त होकर भी लोकोक्ति का स्वतंत्र अस्तित्व बना रहता है।
  • ये रूढ़ वाक्यांश होते है।
  • इनके पीछे जीवन अनुभव का सार व उसकी सत्यता होती है।
  • ये वाक्य में लिंग ,वचन ,कारक  आदि के अनुसार बदल जाते है।
  • इनमें लिंग ,वचन,कारक आदि के अनुसार परिवर्तन नहीं होता।
  • इनका प्रयोग भाषा को बल देने , उसे रुचिकर व जीवंत बनाने के लिए होता है।
  • इनका प्रयोग वक्ता की बात की पुष्टि करने के लिए होता है।

११) भाषा में मुहावरों व लोकोक्तियों के प्रयोग का महत्व बताइए।

  • टी. वी. शो होस्ट दर्शकों को आकर्षित करने के लिए मुहावरें व लोकोक्तियाँ का प्रयोग करते है।
  • समाचार वक्ता घटित घटना पर प्रभाव डालने के लिए मुहावरें व लोकोक्तियाँ का प्रयोग करते है।
  • नेता मतदारो को प्रभावित करने और ज्यादा मत पाने के लिए अपने भाषण में मुहावरें व लोकोक्तियाँ का प्रयोग करते है।
  • दूसरे व्यक्ति के साथ बातचीत को रोचक बनाने के लिए मुहावरें व लोकोक्तियाँ का प्रयोग करते है।
  • लेखक और कवि अपनी पुस्तक में मुहावरें व लोकोक्तियाँ का प्रयोग करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *